Tue. Jul 7th, 2020

हिन्दी आजकल

एक नई पहचान

कोरोना वायरस के बारें में फैले तथ्य और मिथक

कोरोना वायरस क्या है? (What is Corona Virus?)

कोरोना वायरस का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है।

कोरोना वायरस के लक्षण क्या है ?

  • सामान्य सर्दी जुकाम या निमोनिया जैसा होता है।
  • इस वायरस का संक्रमण होने के बाद
  • बुखार
  • खांसी
  • जुकाम
  • सांस लेने में तकलीफ
  • नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या होती है।

यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है

कोरोना वायरस के लक्षण दिखने में 1 से 14 दिन का समय लग सकता है।

कोरोना वायरस का खतरा दो लोगो में ज्यादा होता है

1. जिन लोगो की इम्युनिटी बहुत कमज़ोर होती है।

2. जो लोग पहले से किसी बीमारी से ग्रषित है।

कोरोना वायरस फैलता कैसे है ?

यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है,छींकने से , खाँसने से आदि।

कोरोना वायरस से अपना और परिवार के लोगों का बचाव कैसे करें?

1. अपने हाथों को साफ़ रखे।

2. छींकते समय अपने हाथों का इस्तेमाल न करें।

3. इंफेक्टेड व्यक्ति से दूरी बनाये रखें।

4. अगर आप खुद पीड़ित है तो फिर सभी लोगों से दुरी बना क्र रखे।

स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार की तरफ से arsenic album 30 को हफ्ते में दिन लेने का सुझाव दिया है,इस दवा का कोई मेडिकली प्रमाण नहीं है जो यह सिद्ध करें कि कोरोना वायरस के लिए ये उपयोगी है।

कोरोना वायरस से सम्बंधित फैले हुए मिथ्स या गलत धारणाएं

क्या हैंड ड्रायर का इस्तेमाल करने से कोरोना वायरस मर जाता है ?

नहीं, ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

क्या UV इन्फेक्टेंट्स से भी कोरोना वायरस मरते है?

अल्ट्रावॉयलेट किरणें बहुत ही हानिकारक होती जो हमारी स्किन को जला भी सकती है।

लहसुन का इस्तेमाल करने से भी कोरोना वायरस से बच सकते है ?

अभी तक ऐसा कोई प्रमाण नहीं मिला है जो सिद्ध करे कि लहसुन फ़ायदेमंद है.कोरोना वायरस सभी लोगों में होने का खतरा बना हुआ है लेकिन बूढ़े लोग ज्यादा आसानी से संक्रमित हो सकते है। किसी भी तरह की झूठी अफ़वाह पर ध्यान न दे। किसी भी तरह के लक्षण दिखाई देने पर डॉक्टर से सलाह ले या नज़दीकी स्वास्थ्य केंद्र जाएं।